अगले पांच सालों में अमेरिका की तरह होगी बिहार की सड़कें, इन राज्यों के लिए बनेगी कई सड़कें

बिहारवासी के लिए अच्छी खबर है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे की उद्घाटन समारोह से वर्चुअली जुड़े केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बिहार की सड़कें अगले पांच वर्षों में अमेरिका की तरह होंगी. वहीँ उन्होंने दुसरे राज्य के लिए बताया कि बिहार से पश्चिम बंगाल, झारखंड, यूपी के लिए कई एक्सप्रेस-वे का निर्माण होना है |

रामजानकी मार्ग अयोध्या से सीतामढ़ी के भिट्ठामोड़ होते हुए नेपाल सीमा तक बनेगा. इन परियोजनाओं सहित राज्य में सड़कों को बेहतर बनाने पर करीब पांच लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे. उन्होंने भागलपुर में विक्रमशिला सेतु के समानांतर बनने वाले नये फोरलेन पुल के बारे में कहा कि इसका निर्माण दिसंबर, 2022 तक शुरू हो जायेगा |

यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : बिहार में बदल गया शिक्षक बहाली का नियम, बिहार के इन शिक्षकों को मान्यता देने से इनकार !

कृषि एवं उद्योग में होगा इजाफा

और आखिरी में उन्होंने मुंगेर पुल की चर्चा करते हुए कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल बिहारी वाजपेयी और तत्कालीन रेल मंत्री नीतीश कुमार ने इसका शिलान्यास किया था. उसी पुल का अब शुभारंभ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कर रहे हैं. यह राज्य का तीसरा रेल सह सड़क पुल है. इससे पर्यटन, कृषि और उद्योग में इजाफा होगा, जिससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. इस परियोजना से पूरे क्षेत्र में तरक्की और खुशहाली आयेगी, जो बिहार और देश की तरक्की में एक मिल का पत्थर साबित होगा |

एक नज़र में

  • कटिहार व रिवीलगंज बाइपास में जमीन अधिग्रहण की समस्या हल करे
  • एनएच-80 के विक्रमगंज-डूमरा खंड में फॉरेस्ट क्लीयरेंस में तेजी लाये
  • रामजानकी मार्ग की डीपीआर जून, 2022 तक बन जायेगी. निर्माण नवंबर 2022 से शुरू होगा.
  • बिहार में सड़क निर्माण पर 1.60 लाख करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं. 25 हजार करोड़ 2022-23 तक खर्च हो जायेंगे.
  • राज्य में 27 हजार करोड़ रुपये से बन रहे हैं पुल
  • राज्य में चार एक्सप्रेस-वे की डीपीआर बन रही है
यह भी पढ़ें  बिहार : मई 2022 तक किसी भी हाल में पूरा करना होगा गांधी सेतु का काम देरी नहीं की जाएगी बर्दाश्त - पथ निर्माण मंत्री