मछुआरे के हाथ लगी दुनिया की सबसे बूढ़ी मछली, करोड़ों साल बाद समुद्र की गहराइयों से जिंदा निकली बाहर देखे तस्वीर….

जैसा की हम सबको पता है समुद्र में बहुत से जीव जंतु रहते है | सांप मछली जी हाँ दोस्तों! आपको बता दे की समुद्र की दुनिया कई रहस्यों से भरी हुई है. आए दिन समुद्र के नीचे नए-नए जीवों के मिलने की खबरें सामने आती रहती हैं. पिछले दिनों Mongabay News की एक खबर में दावा किया गया कि मेडागास्कर (Madagaskar) के समुद्र की गहराइयों से मछुआरों को दुनिया की सबसे बूढ़ी मछली मिली है. ये मछली 42 करोड़ साल की है. साथ ही ये जिंदा भी है. मछली को अब वैज्ञानिकों ने अपने कब्जे में लेकर इसपर स्टडी करना शुरू कर दिया है.

यह भी पढ़ें  मछुआरे की जाल में फंसी 60 किलो की दुर्लभ मछली, देखने को उमरी भीड़ कीमत जान हो जायेंगे हैरान…

मछली की इस प्रजाति को Coelacanth कहा जाता है. इस मछली के पैर होते हैं. अपने चार पैरों की वजह से ये मछली वैज्ञानिकों के बीच चर्चा का विषय रहती है लेकिन इसे विलुप्त मान लिया था. अब सालों बाद इस मछली को शार्क हंटर्स ने समुद्र की गहराइयों से बाहर निकाला है. इस मछली को डायनासोर के साथ ही खत्म हुआ समझ लिया गया था. लेकिन अब इतने सालों बाद मिली इस मछली ने सनसनी मचा दी.

मछली की इस प्रजाति को 42 करोड़ साल पुराना बताया जा रहा है. ये समुद्र में 300 से 500 फ़ीट की गहराई में रहती है. सबसे बड़ी बात ये कि इनके पैर होते हैं. इस मछली के मिलने के बाद वैज्ञानिक अचंभित हैं. लोगों को हैरानी है कि इतने साल बाद ये मछली जिंदा कैसे मिली है?

यह भी पढ़ें  पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज सड़क किनारे बेच रहे हैं चने, देखिये वायरल VIDEO

अब वैज्ञानिकों को इस बात चिंता है कि कहीं इस मछली की वजह से अन्य समुद्री जीवों को कोई समस्या ना हो? मछली की इस प्रजाति के ऊपर सालों से रिसर्च हो रही थी. कई वैज्ञानिक इस मछली पर शोध कर रहे थे लेकिन उन्होंने इसे विलुप्त ही मान लिया था. लेकिन अब इसके जिंदा मिलने से शोध में काफी मदद मिलेगी |

नोट : इस न्यूज़ को इंटरनेट पर उपलब्ध अन्य वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है। firstbharatiya.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।