बिहार के अप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन में नहीं होगी कोई बढ़ोतरी, जानें पूरा मामला…

बिहार के अप्रशिक्षित शिक्षकों के लिए एक बुरी खबर है | बता दे की इन शिक्षकों का 15 प्रतिशत वेतनमान नहीं बढ़ेगा. बताया जा रहा है कि प्रारंभिक विद्यालयों में कक्षा 1 से 8 के लिए 31 मार्च 2019 के बाद अप्रशिक्षित शिक्षकों की सेवा नहीं जाएगी | ऐसे में इन शिक्षकों का ऑनलाइन कैलकुलेटर से वेतन निर्धारण नहीं होगा.

माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत अप्रशिक्षित शिक्षक जो सेवाकालीन प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं, उनका अप्रशिक्षित शिक्षकों के रूप में वेतन निर्धारण होगा. यह वेतन निर्धारण ऑनलाइन कैलकुलेटर की जगह मैन्युअली होगा. अप्रशिक्षित प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन को लेकर यह जानकारी माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनोज कुमार ने दी |

यह भी पढ़ें  यह है बिहार के डिजिटल भिखारी कैश या छुट्टे नहीं रहने पर लेता है Phone pe से पैसा

शिक्षकों का वेतन निर्धारण मैन्युअली होगा

बिहार शिक्षा निदेशक मनोज कुमार के अनुसार, अनुत्तीर्ण शिक्षक मूल वेतन पर ही रहेंगे और ऐसे शिक्षकों का एक अप्रैल 2021 को प्राप्त मूल वेतन में 15 प्रतिशत वृद्धि करके वेतनमान निर्धारण किया जाएगा. ऐसे शिक्षकों को एक जनवरी 2022 से कोई वेतन वृद्धि देय नहीं होगा. तत्काल इनका वेतन निर्धारण मैन्युअली किया जाएगा. ऐसे शिक्षकों की सूची सभी जिलों को निदेशालय को उपलब्ध कराने को कहा गया है |

वहीं बता दें कि राज्य सरकार ने डॉ रेखा कुमारी को उच्च शिक्षा निदेशक के पद पर नियुक्त किया है. वह दूसरी बार इस पद पर नियुक्ति की गई है. शिक्षा विभाग ने मंगलवार को इसकी अधिसूचना जारी कर दी. रेखा कुमारी का पहला कार्यकाल 16 दिसंबर 2021 को पूरा हुआ था.उसके बाद से यह पद माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनोज कुमार के प्रभार में था. उनकी नियुक्ति तीन वर्षों के लिए हुई है. रेखा कुमारी ने कहा कि उच्‍च शिक्षा को बढ़ावा देने की सरकार की योजनाओं पर काम करेंगी.

यह भी पढ़ें  पेट्रोल-डीजल के नये रेट ने दी लोगों को राहत, जानिये क्या है आज की भाव?