अपने जीवनसाथी को बनाएं आत्मनिर्भर, आज ही खुलवाएं पत्नी के नाम ये अकाउंट जाने खासियत…

अभी के समय में सभी लोग को अपने भविष्य की चिंता होती है | और सभी लोग अपने भविष्य के लिए कहीं न कहीं इन्वेस्ट करते है | की आगे चलकर इससे अच्छे रिटर्न आ सके और आगे की दिन सुगम और सुखमय हो | बता दे की अपने खर्चों और वित्तीय जरूरतों को सही से चलाने के लिए बचत करना बेहद जरूरी होता है।

बचत करने से भविष्य में आकष्मिक जरूरतों को पूरी करने में काफी आसानी होती है। अगर आप अपने बचत के पैसों को सही जगह पर इनवेस्ट करते हैं तो आप उस पर कमाई भी कर सकते हैं। सरकार का एक प्लान है जिसके तहत पति-पत्नी, दोनों के लिए ही रिटायरमेंट के समय आर्थिक जरूरतों को पूरा किया जा सकता है |

यह भी पढ़ें  काम की खबर : सरकार की ये योजना विधवा महिलाओं को देती है 500 रुपये हर महीने, जाने पूरी डिटेल्स....

इसके लिए आप अपने नजदीकी के डाकघर में संपर्क कर सकते हैं. और वह प्लान है न्यू पेंशन सिस्टम यानी एनपीएस. अगर आप चाहते हैं कि आपकी पत्नी भी आत्मनिर्भर बने और भविष्य में आपकी पत्नी पैसे के लिए किसी पर निर्भर न रहें तो पत्नी के नाम से आज ही नेशनल पेंशन स्कीम (National Pension Scheme) में निवेश करना चाहिए.

10-11 प्रतिशत रिटर्न : आपको बता दे की एनपीएस में निवेश करने पर आपको सालाना 10-11 प्रतिशत रिटर्न मिलता है. ऐसे में जब आपकी उम्र 60 साल की होगी आपके खाते में इतने पैसे जमा हो जाएंगे कि बुढ़ापा आराम से कट जाएगा. आप NPS अकाउंट में अपनी सुविधा के अनुसार हर महीने या सालाना पैसा जमा कर सकते हैं. आप सिर्फ 1,000 रुपये से भी NPS अकाउंट खोल सकते हैं. 60 वर्ष की उम्र में NPS अकाउंट मैच्योर हो जाता है. आप इसे 5 साल के लिए और बढ़ा सकते हैं.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : SBI ग्राहकों के लिए तोहफा! सिर्फ 4 क्लिक करके घर बैठे पाएं पर्सनल लोन, प्रोसेसिंग फीस मात्र शून्य रुपया

जानकारी के अनुसार NPS केंद्र सरकार की सोशल सिक्योरिटी स्कीम (Social Security Scheme) है. इस स्कीम में आप जो पैसा निवेश करते हैं उसका प्रबंधन फंड मैनेजर करते हैं. NPS में आपका निवेश पूरी तरह से सुरक्षित रहता है. NPS ने शुरुआत के बाद से अब तक सालाना औसतन 10 से 11 फीसदी तक रिटर्न दिया है |

पत्नी के नाम पर एनपीएस : बता दे की किसी भी नजदीकी डाकघर में जाकर पत्नी के नाम से न्यू पेंशन सिस्टम अकाउंट खोल सकते हैं. इस दौरान पत्नी का 60 साल की उम्र पूरा होते ही उसे एकसाथ पूरा रकम मिलेगी. इसके साथ ही हर महीने उन्हें पेंशन के रूप में रेगुलर इनकम भी होगी. एनपीएस अकाउंट के साथ आप यह भी तय कर सकते हैं कि हर महीने कितनी पेंशन मिलेगी |

यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने के बाद CNG की कीमतों उछाल जानिये तजा भाव?