बिहार में बदला मौसम का मिज़ाज, राजधानी पटना से लेकर राजस्थान तक हो रही बारिश !

बिहार में दिन पर दिन सर्दी का सितम रुकने का नाम नहीं ले रहा है | बता दे की बिहार में पश्चिमी विक्षोभ के दस्तक देने से रविवार और सोमवार को बारिश के आसार बन गए हैं। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अगले दो दिनों में प्रदेश में बारिश के साथ-साथ बिजली गिरने और ओलावृष्टि के भी आसार हैं। बारिश के बाद प्रदेश में कोहरा एवं ठंड का प्रभाव और बढ़ जाएगा। शनिवार को पश्चिमी विक्षोभ के कारण राजस्थान से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश तक बारिश होती रही।

शनिवार को गया राज्य का सर्वाधिक ठंडा स्थान रहा, वहां पर न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। फारबिसगंज में अधिकतम तापमान 24.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। पटना मौसम विज्ञान केन्द्र के विज्ञानी संजय कुमार का कहना है कि वर्तमान में पश्चिमी विक्षोभ की चपेट में पूरा उत्तर भारत है। विक्षोभ के कारण ही वर्तमान में प्रदेश के विभिन्न भागों में बूंदाबांदी हो रही है। रविवार को इसमें और तेजी आने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें  बिहार के सारण से सुपौल तक 10 जिलों से होकर गुजरेगा, 515 किमी का शानदार एक्सप्रेस-वे

मौसम विज्ञानी के अनुसार रविवार को प्रदेश के पश्चिमी भाग में अच्छी बारिश हो सकती है। वहीं, सोमवार को प्रदेश के पूर्वी भाग में भी बारिश हो सकती है। मंगलवार एवं बुधवार को प्रदेश में घना कोहरा छा सकता है। बारिश के साथ ही प्रदेश में ठंड में वृद्धि हो जाएगी। वर्तमान में प्रदेश में चार से छह किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवा चल रही है। प्रदेश में फिलहाल अरब सागर एवं बंगाल की खाड़ी दोनों जगहों से भारी मात्रा में नमी आ रही है, जिससे घने बादल छाए हुए हैं।

कनकनी से मिलेगी राहतं !

मौसम वैज्ञानिक आनंद शंकर के मुताबिक कही हल्की तो कही मध्यम स्तर का वर्षापात होगा. बिहार में पूर्वी जिला और झारखंड से लगे इलाकों मे बरसात का पूर्वानुमान है. साथ ही, न्यूनत्तम तापमान में इजाफा होने से कनकनी से राहत मिलेगी |

यह भी पढ़ें  हाई कोर्ट का शख्त आदेश एयरपोर्ट रनवे विस्तार के लिए भूमि अधिग्रहण का काम जल्द करें पूरा !

ये ट्रेने किया गया रद्द !

12328-देहरादून हावड़ा उपासना एक्स, 13005- हावड़ा अमृतसर पंजाब मेल, 13006-अमृतसर हावड़ा पंजाब मेल, 22197- झांसी कोलकाता प्रथम संग्राम, 13240-कोटा पटना एक्स, 13430-आनंद बिहार मालदा एक्स, 15657-दिल्ली कामख्या ब्रह्मपुत्र मेल, 15658-कामख्या दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल रद्द कर दी गई हैं.