बड़ी खबर : पटना जंक्शन गोलंबर के बदले करबिगहिया से बिहारशरीफ और हाजीपुर की बसें चलाने की तैयारी…

बिहार की राजधानी पटना स्थित रेलवे स्टेशन और गोलम्बर पर कई दिशा और कई रूट पर बस चलने के कारण भीड़ बहुत हो जाती है और भीड़ के कर्ण जाम जैसी समस्याए से लोगों को जूझना पड़ता है | बता दे की इसी को ध्यान में रखते हुए बीएसआरटीसी जल्द ही एक नहीं योजना बना रही है |

आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इसके तहत बिहारशरीफ और हाजीपुर की रूटों की बसें करबिगहिया के पास रेलवे स्टेशन परिसर से खुलेंगी. इसके लिए रेलवे के अधिकारियों से बातचीत चल रही है, जिसमें रेलवे परिसर के अंदर बस लगाने की अनुमति मांगी गयी है |

यह भी पढ़ें  Bihar Board : मुश्किल में पड़ेंगे परीक्षा में चोरी करने वाले बच्चे, हर सेंटर पर लगेगा सीसीटीवी कैमरा जानिये नियम!

अगर रेलवे ने अनुमति दे दी तो बिहारशरीफ और हाजीपुर की बस पटना जंक्शन स्टेशन रोड से नहीं चलेगी. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस व्यवस्था के हो जाने से स्टेशन गोलंबर के पास भीड़ में कमी आयेगी. बस से जाने-वाले यात्री स्टेशन रोड न आकर पीछे करबिगहिया की तरफ आयेंगे | इससे लोगों को जाम से मुक्ति मिलेगी |

अगर बीच सड़क पर रोका तो देनी होगी जुर्माना

जानकारी के अनुसार अब बस चालक यात्रियों को क्यू शेल्टर यानी बस स्टॉप पर ही उतारना होगा. अगर बीच सड़क पर कोई भी बस चालक पैसेंजर को उतारते दिखेंगे तो उसपर जुर्माना लगेगा. गुरुवार को बीएसआरटीसी के अधिकारियों ने स्टेशन गोलंबर का जायजा लिया और बस चालकों को हिदायत दी |

यह भी पढ़ें  रामायणी को आया पुरे बिहार में पहला स्थान बनना चाहती है पत्रकार बोली-उम्मीद से कम आया अंक

उन्होंने कहा कि अगर बीच सड़क पर खड़ी कर पैसेंजर बैठाते या उतारते दिख गये तो कार्रवाई की जायेगी. चाहे पैसेंजर जितना भी जिद करें, लेकिन बीच सड़क पर यात्रियों को नहीं उतारना है. बीएसआरटीसी कई और जगहों पर क्यू शेल्टर बना रही है, ताकि पैसेंजर को किसी भी तरह की कोई परेशानी न हो |