टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान कोहली को लेकर हेड कोच राहुल ने की बड़ी भविष्वाणी बोले…

भारतीय टीम के वर्तमान टेस्ट कप्तान कोहली के बल्ले बहुत दिन से नहीं चले है करीब दो साल से भी ऊपर हो गये | नवम्बर 2019 के बाद से कोहली के बल्ले से एक भी सेचुरी देखने को नहीं मिला | विराट ने जबसे इंटरनेशनल क्रिकेट का आगाज किया है, तब से यह पहला मौका है, जब लगातार दो साल उनके बल्ले से कोई शतक नहीं निकला है, लेकिन हेड कोच राहुल द्रविड़ इसको लेकर ज्यादा परेशान नहीं हैं। द्रविड़ ने भविष्यवाणी की कि विराट अपना बैटिंग फॉर्म बदलने के कगार पर हैं। 2020 की शुरुआत से 14 टेस्ट में बिना किसी शतक के उनका औसत 26.08 का रहा है।

 ‘भले ही उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की और उन शुरुआतों को बड़े स्कोर में बदल नहीं सके, मुझे लगता है कि उनके बल्ले से अच्छे स्कोर आने वाले हैं। ग्रुप में उनको देखकर लगता है कि वह सब कुछ कितने आराम से कर रहे हैं, वह कितने शांत हैं और वह कैसे तैयारी कर रहे हैं और कैसे वह इस सब में जुड़े हुए हैं। हो सकता है कि अगले मैच में ऐसा ना हो, मैं उम्मीद करता हूं कि यह अगले मैच में होगा, लेकिन मुझे लगता है कि उसके जैसे व्यक्ति से हम एक बार लय पकड़ने के बाद बड़े स्कोर का सिलसिला देखने वाले हैं। मुझे लगता है कि पिछले दो हफ्तों में उनके आसपास जो शोर है, उसके बावजूद उन्होंने खुद को संभाला और भारतीय क्रिकेट का बेहतरीन नेतृत्व किया।’

राहुल द्रविड़ ,(हेड कोच टीम इंडिया )

2020 की शुरुआत से चेतेश्वर पुजारा का औसत 26.21 है और इस दौरान उन्होंने केवल सात अर्धशतक लगाए हैं। द्रविड़ से जब पुजारा के फॉर्म के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि कई बार बल्लेबाज मुश्किल परिस्थितियों में बिना बड़े स्कोर बनाए अच्छी बल्लेबाजी करते हैं। द्रविड़ ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह अपना बेस्ट प्रदर्शन कर रहे हैं, और कई बार, निश्चित रूप से वह अधिक रन बनाना चाहेंगे। उन्होंने अपने 10 वर्ष के टेस्ट क्रिकेट करियर में बहुत सफलता हासिल की है |

यह भी पढ़ें  ईशान किशन लेना चाहते है ऋषभ पंत की जगह ? कहा- मुझे विकेटकीपिंग पसंद है मुझे मौका दिया जाए तो....