गाड़ी में पेट्रोल भरवाते वक़्त इस बात का रखे ध्यान, पेट्रोल-पंप पर ऐसे लुटा जाता है आपको

पेट्रोल का दाम इन दिनों आसमान छू रहा है। आये दिन बढ़ते दाम की वजह से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अब अगर ऐसे में पेट्रोल पंप वाले भी लोगों के साथ धोखाधड़ी पर उतर आएं तो आम जनता करे क्या! आईये आज आपको पेट्रोल पंप पर होने वाले कुछ धोखाधड़ी से बचने का उपाय बताते हैं।

पेट्रोल पंप में तेल भराते समय आपको उस व्यक्ति पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है जो तेल भरते समय नोजल से जुड़ा पाइप पकड़े होता है। वे तेल भरने के दौरान कई बार पाइप को दबाते हैं जिससे तेल की रफ्तार में रुकावट आती है और कम मात्रा में तेल आपके फ्यूल टैंक में पहुंचता है। जबकि मशीन में तेल की मात्रा वही दिखाएगी जितनी आप चाहते हैं। ऐसे में आप कम तेल के लिए ज्यादा कीमतें दे रहे हैं।

राउंड फिगर में कभी न ले तेल :

राउंड फिगर का मतलब हुआ 100, 200, 500, 1000 जब भी पेट्रोल लेने जाएं तो कभी भी 100 या 200 के राउंड फिगर में पेट्रोल ना लें क्योंकि पेट्रोल पंप वाले डिस्पेन्सर मशीन में इन राउंड फिगर्स के साथ कम तेल को सेट कर देते हैं, जिससे हमें लगता है कि सौ रुपए का तेल मिल रहा है जबकि सेटिंग के कारण सौ में ग्राहक को कम तेल मिल रहा होता है। इससे बचने के लिए कभी भी राउंड फिगर में तेल ना भरवाएं। हमेशा 110 से 120 का तेल भरवाएं।

मीटर से छेड़छाड़ करके भी ग्राहकों को पेट्रोलपंप कर्मी लूट रहे हैं। अगर ग्राहक 500 रुपये का तेल मांगता है तो कर्मचारी मीटर को 500 पर सेट कर देता है और तेल भरना शुरू करता है। बीच में वह ग्राहकों का ध्यान भटकाकर मीटर से छेड़छाड़ करता है और रीडिंग को आगे बढ़ा देता है। ज्यादातर ग्राहक बिना इस पर ध्यान दिए 500 रुपये चुकाते हैं। इस पर नजर रखने का एक बेहतर तरीका है। अगर पेट्रोल पंप कर्मचारी मीटर पर 500 रुपये दर्ज करता है तो गिनती वैसी रहेगी लेकिन अगर ‘सिर्फ 500’ दर्ज करेगा तो डिस्प्ले ब्लिंक करने लगेगा।

साभार :- oneindia.com

नोट : इस न्यूज़ को इंटरनेट पर उपलब्ध अन्य वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है। firstbharatiya.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।