पैसे के बिना इस स्टूडेंट को IIT में नहीं मिल पा रहा था एडमिशन, जज ने दी फीस पेश की महानता का मिशाल

यहां वही सफलता पाता है जिसके सपने भी बड़े होते हैं और मेहनत भी। यूपी के लखनऊ में हाईकोर्ट बेंच के जज दिनेश कुमार सिंह ने बेहतरीन मिसाल पेश की. एक छात्रा के पास बीएचयू आईआईटी में एडमिशन के लिए पैसे नहीं थे. जज दिनेश कुमार ने मामले की सुनवाई की तो उन्होंने तुंरत अपनी जेब से 15 हजार रुपये दिए.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, छात्रा संस्कृति रंजन ने लखनऊ की हाईकोर्ट बेंच में याचिका दायर की थी. इसमें कहा गया था कि आईआईटी बीएचयू में एडमिशन के लिए फीस भरने के लिए पैसे नहीं थे. समय पर फीस नहीं भरने की वजह से वह एडमिशन से वंचित रह गई थी.

यह भी पढ़ें  बिहार के लाल ने सूरज जेल में रहकर पास की IIT की परीक्षा पुरे भारत में आया 54वा रैंक मर्डर केस में है जेल में

छात्रा ने कहा कि उसने जॉइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी को कई बार चिट्ठी लिखकर पैसे न होने की बात कही. लेकिन, अथॉरिटी ने कोई जवाब नहीं दिया. इसपर सुनवाई करते हुए जज दिनेश कुमार ने छात्रा की पढ़ाई का रिकॉर्ड देखा |

साभार :- indiatimes.com