टेस्ट क्रिकेट में 100 से कम गेंदो में सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले टॉप 5 भारतीय बल्लेबाज

टेस्ट फॉर्मेट में जब बल्लेबाज बल्लेबाजी करने उतरता है तो उनका लक्ष्य होता है पहले कुछ बॉल अच्छे से फेस कर लिया जाए। पिच के कंडीशन को समझने के लिए ऐसा करना सही होता है। लेकिन कुछ बल्लेबाज ऐसे होते हैं जो टेस्ट मैच में भी वनडे की तरह ही बल्लेबाजी करते हैं। जानते हैं उन टॉप-5 भारतीय बल्लेबाजों के बारे में जिन्होंने टेस्ट में सबसे तेज शतक लगाए हैं।

वीरेंद्र सहवाग

मुल्तान के सुल्तान नाम से लोकप्रिय वीरेंद्र सहवाग 100 से कम गेंदों पर शतक लगाने के मामलें में पहले स्थान पर आते है। भारत का यह पूर्व सलामी बल्लेबाज विस्फोटक अंदाज से बल्लेबाजी करने के लिए जाना जाता है। सहवाग अपने खेलने का अंदाज नहीं बदलते है चाहे कोई सा भी फॉर्मेट क्यों ना हो। सहवाग ने भारत के लिए 104 टेस्ट मैच खेले है और 49.34 की औसत के साथ 8586 रन बनाये है।

यह भी पढ़ें  अगर इन 11 धुरंधर खिलाड़ियों के साथ उतरी धोनी की सेना, तो IPL 2022 जीतने से CSK होगी प्रवल दावेदार

इस दौरान उन्होंने 32 अर्धशतक और 23 शतक भी लगाए है। सहवाग ने दो-दो बार इस प्रारूप में तिहरे शतक जड़े है। वहीं सौ से कम गेंदों का सामना करते हुए उन्होंने 7 टेस्ट शतक लगाए है। सहवाग का टेस्ट स्ट्राइक रेट लगभग 82.23 का रहा है।

कपिल देव

भारत के पूर्व महान ऑलराउंडर रहे कपिल देव ने श्रीलंका के खिलाफ खेलते हुए 1986 में सिर्फ 74 गेंदों में ही शतक पूरा कर लिया था। इस मैच में कपिल देव ने 165 गेंदों में 163 रन की पारी खेली थी| जिसमें 19 चौके और 1 छक्के शामिल थे। इस मैच में भारत की तरफ से दो और शतक लगे थे। सुनील गावस्कर और मोहम्मद अजहरुद्दीन ने शतकीय पारी खेली थी। भारत के तरफ से टेस्ट में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड कपिल देव के नाम है।

यह भी पढ़ें  कोहली की अनुपस्थिति में राहुल को कप्तानी मिलते ही राहुल ने दिखाया कमाल, कोहली को पछाड़कर धोनी की कर ली बराबरी !

मोहम्मद अजहरुद्दीन

मोहम्मद अजहरुद्दीन की गिनती सबसे सफल कप्तानों में की जाती है। भारतीय क्रिकेट के स्टाइल आइकन अजहरुद्दीन अपनी एक्रोबेटिक स्लिप फील्डिंग के साथ-साथ अपनी शानदार बल्लेबाजी के लिए भी जाने जाते थे। 100 से कम गेंदों में शतक लगाने की बात की जाए तो तीसरे स्थान पर इस खिलाड़ी का नाम आता ही। उन्होंने ये कारनामा 2 बार करके दिखाया है। जब वो बल्लेबाजी करते थे तो गेंदबाजों पर बिल्कुल भी दया नहीं दिखाते थे।अजहरुद्दीन के टेस्ट करियर की बात की जाए तो उन्होंने 99 टेस्ट मैच खेले है और 45.03 की औसत से 6215 रन बनाये है। वहीं उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 22 शतक और 21 अर्धशतक लगाए है।

शिखर धवन

बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने साल 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मैच में मात्र 85 गेंदों में शतक ठोक दिया था। धवन ने इस टेस्ट मैच में 174 गेंदों में 187 रन बनाए थे। जिसमें 33 चौके और 2 छक्के शामिल थे। धवन ने ओपनिंग पार्टनर मुरली विजय के साथ पहले विकेट के लिए 289 रनों की शानदार साझेदारी की थी। इस मैच को भारत ने 6 विकेट से जीता था।

यह भी पढ़ें  BCCI ने दिया जवाब की कप्तान कोहली के बाहर होने पर हुनमा विहारी की जगह श्रेयस अय्यर को क्यों नहीं मिला मौका

हार्दिक पांड्या

पिछले कुछ दिनों से खराब फॉर्म से गुजर रहे हार्दिक पांड्या ने साल 2017 में श्रीलंका के खिलाफ हुए टेस्ट मैच में मात्र 86 गेंदों में शतक पूरा कर लिया था। इस शतक के साथ ही हार्दिक पांड्या कपिल देव के साथ उस विशिष्ट क्लब में शामिल हो गए हैं जिसने एक ऑलराउंडर के तौर पर भारत के लिए टेस्ट मैच में शतक बनाया है।