बिहार के पढ़े-लिखे लोगों के लिए अच्छी खबर : बिहार के सरकारी स्कूलों में निकली शिक्षक की बहाली 8386 पद भरे जायेंगे !

बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षक की निकली बहाली करीब 8386 पदों पर वैंकेसी निकली है | क्योंकि अगले तीन महीने वैधानिक कारणों से बिहार में नई बहाली की किसी प्रक्रिया के आरंभ होने के आसार नहीं है। गौरतलब है कि इसी माह राज्य मंत्रिपरिषद ने राज्य के राजकीयकृत प्रारंभिक विद्यालयों में 8386 शारीरिक शिक्षा सह स्वास्थ्य अनुदेशकों के पदों को स्वीकृति दी थी। मंत्रिमंडल ने प्रारंभिक विद्यालयों में तत्काल एक-एक शारीरिक शिक्षा अनुदेशक बहाल करने पर अपनी मुहर लगाई है। यह बहाली अनुबंध पर होगी और शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों को 8000 महीने का नियत वेतन मिलेगा। अलबत्ता 200 सालाना इसमें वृद्धि पर भी स्वीकृति दी गयी है।

यह भी पढ़ें  बिहार के इन 26 जिलों का गिरा पारा, जाने इस कड़ाके की ठंड से कब छूटेगी जान! देखिये मौसम विभाग का रिपोर्ट

हालांकि, शिक्षा विभाग लम्बे समय से लंबित चल रही इस बहाली को यथाशीघ्र करने का मन बना चुका था और अभ्यर्थियों की ओर से अलग-अलग फोरम पर उठायी जा रही मांग के मद्देनजर पद सृजन की स्वीकृति कैबिनेट से कराई गई है। लेकिन प्रदेश में फिलहाल गांवों की सरकार के गठन का कार्यक्रम चल रहा है |

और दिसम्बर मध्य तक चलेगा। इस बात को लेकर जब बिहार के शिक्षा मंत्री श्री विजय कुमार चौधरी और विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार, दोनों ने ही कहा कि पंचायत चुनाव की प्रक्रिया समाप्त होने के बाद ही नियुक्ति विज्ञापित की जा सकेगी।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार में नहीं होगी बालू की किल्लत, खनन में डेढ़ महीने से अधिक का विस्तार, और गिरेंगे भाव

दरअसल केन्द्र सरकार ने बिहार समेत अन्य राज्यों को सभी मध्य विद्यालयों में आरटीई एक्ट के तहत एक-एक फिजिकल इंस्ट्रक्टर बहाल करने का निर्देश दिया था। राज्य में करीब 29 हजार मध्य विद्यालय हैं। विभाग के निर्देश पर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 2018 में 16 दिसम्बर को इस पद पर बहाली के लिए परीक्षा ली। 29 हजार पद के लिए कुल 8039 अभ्यर्थियों ने आवेदन दिए और इनमें से करीब 3500 सफल घोषित हुए। तब से ये सफल अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति के इंतजार में है। की कब सफल लोगों की नियुक्ति शिक्षा विभाग करेगी उम्मीद है की यह नियुक्ति इस साल तक हो जायेंगे |

यह भी पढ़ें  12 हजार करोड़ की लागत से बिहार में एक्सप्रेस-वे का चारो ओर बिछेगा जाल, होगा नए पूल का निर्माण