बिहार के सरकारी स्‍कूलों के बच्‍चे अब सीखेंगे कंप्‍यूटर, दी जाएगी कंप्यूटर की शिक्षा बढेगा बिहार

बिहार के सरकारी स्कूलों के बच्चो के लिए खुशखबरी है। वे अब कंप्यूटर शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगे या फिर नामांकन या स्कूल के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें साइबर कैफे का रुख नहीं जाना पड़ेगा। छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा दिलाने के लिए जिला शिक्षा कार्यालय ने शुरुआत कर दी है। बिहार शिक्षा विभाग के डीईओ ज्योति कुमार ने बताया कि शहर के कुछ स्कूलों में कंप्यूटर की बेहतरीन सुविधा है। सभी संसाधन भी हैं। आज स्कूलों के सभी काम ऑनलाइन कर दिया गया है। ऐसे में अब सरकारी स्कूल के बच्चों को स्कूल में ही कंप्यूटर की शिक्षा मिलेगी।

यह भी पढ़ें  बिहार का दूसरा रेल सुरंग ऑस्ट्रेलिया की टेक्नोलॉजी से, बनकर तैयार जल्द दौड़ेगी ट्रेने

डीईओ ने जिले के 15 योग्य कंप्यूटर शिक्षकों की सूची उप विकास आयुक्त को सौंपी थी। जिन्हें एनआईसी में आनलाइन और आफलाइन प्रशिक्षण उपविकास आयुक्त के निर्देशन में गूगल टीम के द्वारा दी गई। गूगल सीएस फर्स्‍ट की शिवानी अग्रवाल ने यह प्रशिक्षण संचालित किया।

बहुत जल्द होई शुरुआत

डीईओ ज्योति कुमार ने कहा कि इस व्यवस्था के तहत 15 दिनों में स्कूलों में कंप्यूटर की शिक्षा शुरू हो जाएगी। जिन स्कूलों में कंप्यूटर या अन्य सामान खराब है उन्हें तुरंत ठीक करवाने काे कहा गया है। स्थानीय स्तर पर कंप्यूटर का जानकार होने से स्कूलों का काम भी सुगमता पूर्वक हो सकेगा। इसके लिए सभी स्कूलों के प्रधानाध्यापक को सूचना दे दी गई है। और उसे 15 दिनों के अन्दर रिपोर्ट देने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें  बिहार में बदला मौसम का मिज़ाज, राजधानी पटना से लेकर राजस्थान तक हो रही बारिश !