बहुत आसान हो जाएगा बिहार का सफ़र : बन रहा देश का सबसे लम्बा एक्सप्रेस वे गंगा एक्सप्रेस-वे

बहुत आसान होने वाला है बिहार का सफ़र क्योंकि बनके लगभग तैयार हो गया है | देश का सबसे लम्बा एक्सप्रेस वे जानकारी के अनुसार अगले महीने दिसंबर में भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र दामोदर दस मोदी देश के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे गंगा एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करेंगे। मेरठ में कृषि विश्वविद्यालय में शिलांयास कार्यक्रम को किया जाना संभावित है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे को उन्नाव में गंगा एक्सप्रेसवे से लिंक किया जाएगा। जिससे बिहार आने का रास्ता काफी हद तक आसान हो जाएगा |

बता दे की पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के लोकार्पण के बाद अब मेरठ से बिहार तक का सफर भी अगले चार वर्षों में आसान हो जाएगा। मेरठ से प्रयागराज तक बनाए जाने वाले गंगा एक्सप्रेसवे को बलिया तक बनाया जाना है। बलिया से बिहार राज्य की सीमा शुरू हो जाती है। और लोग बलिया के रास्ते बिहार आसानी से आ सकते है |

यह भी पढ़ें  बिहार के बिहटा, फतुहा व रक्सौल में बनेंगे लॉजिस्टिक पार्क, जानिये क्या होगी खासियत....

जानकारी के अनुसार गंगा एक्सप्रेसवे के लिए मेरठ में नौ गांवों की 181 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाना है। मेरठ में भूमि क्रय की प्रक्रिया लगभग पूरी की जा चुकी है। अब मात्र 23 हेक्टेयर भूमि को क्रय किया जाना है। इसके लिए सामाजिक आद्यात की रिपोर्ट भी तैयार कर ली गई है। जिससे किसानों के बीच जाकर उन्हें एक्सप्रेसवे की खासियत बताई जा सके। गंगा एक्सप्रेसवे मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़, प्रयागराज शहरों को शामिल किया गया है। और इस गंगा एक्सप्रेस वे को अगले महीने प्रधानमंत्री जी खुद उद्घाटन करेंगे |

नोट : इस न्यूज़ को इंटरनेट पर उपलब्ध अन्य वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है। firstbharatiya.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।

यह भी पढ़ें  बिहार के राजेंद्रनगर टर्मिनल पर बनेगा शानदार सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, इन दो रेललाइन को भी मिली मंजूरी...