बिहार में वार्ड सदस्य का चुनाव हारा तो पानी का सप्लाई किया बंद, गर्मी में पानी के लिए तरस रहे लोग

बिहार में वर्तमान में पंचायत चुनाव जारी है. ऐसे में लोग गांव में सरकार बनाने के लिए मतदान कर रहे हैं. लेकिन चुनाव के दौरान कई तरह की घटनाएं सामने आ रही है. जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे. कई जगहों पर तो चुनाव हारने के बाद गांव के लोगों को घऱ से बाहर निकलने पर गो-ली मारने की धमकी भी गई है, ऐसे में एक ऐसा भी वार्ड है जहां वार्ड सदस्य चुनाव हार गया तो उसने पानी का सप्लाई ही बंद कर दिया है |

चुनाव में शिकस्त खाने के बाद वार्ड सदस्य ने पूरे गांव में पानी के सप्लाई को बंद कर दिया है, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है. घटना नवादा जिले के कौआकोल प्रखंड अंतर्गत नावाडीह पंचायत का है. यहां वार्ड संख्या तीन से चुनाव हारने के बाद वार्ड सदस्य विनिता देवी ने सरकारी नल जल योजना की सेवा को ठप कर दिया है |

यह भी पढ़ें  बिहार के लोगों को मिलेगी सौगात राजधानी पटना से होते हुए गुजरेगी डबल डेकर ट्रेन, किराया भी होगा कम

ग्रामीणों ने बताया कि नावाडीह पंचायत के वार्ड संख्या तीन से 2016 के पंचायत चुनाव में विनिता देवी वार्ड सदस्य पद पर निर्वाचित हुई थी. सरकारी स्तर से पंचायत में नल जल योजना से कराए गए बोरिंग और मिनी जलापूर्ति केन्द्र उन्हीं की देखरेख में लगाया गया. तब वार्ड के लोगों को पानी निर्वाध ढंग से उनके द्वारा मुहैया कराया जा रहा था |

चुनाव हारने के बाद इनसे सदमा बरदास्त नही हुआ और जिसके खीस में वो उस सरकारी जल आपूर्ति केंद्र से मिल रहे पानी का कनेक्सन सारे ग्राम वाशी से कट दिया |