बिहारः चुनाव में मिली हार तो गांवों के बीच में आ गई ‘दरार’, मुखिया प्रत्याशी ने JCB लाकर सड़क ही खोद दिया

बिहार के गया के मोहड़ा प्रखंड के तेतर पंचायत में मुखिया के चुनाव में मिली हार का गुस्सा एक प्रत्याशी ने सड़क काट कर निकाला। हार से बौखलाए मुखिया प्रत्याशी धीरेंद्र यादव ने पांच गांवों को जोड़ने वाली सड़क को ही काट डाला और काफी बड़ा गढ्ढा कर दिया। उसने जेसीबी से सड़क को करीब दस फीट की दूरी तक खोद दिया। इसके बाद गाड़ियों का आना जाना तो बंद हो ही गया, गाँव के लोगों के लिये पैदल आना जाना भी मुश्किल हो गया।

यहां लोगों का पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है. दरअसल, तेतर पंचायत में मुखिया प्रत्याशी के रूप में 16 लोग चुनाव में खड़े थे जिसमें से एक नाम चरवारा गांव के धीरेंद्र कुमार का भी था. परिणाम घोषित हुआ तो धीरेंद्र कुमार हार गए. इससे बौखलाए धीरेंद्र यादव ने गांव की सड़क को काटकर क्षतिग्रस्त कर दिया. इस पंचायत से पूर्व मुखिया शिल्पी सिंह भी चुनाव लड़ी थीं. इस बार ग्रामीणों ने दोबारा उन्हें ही मुखिया बनाया है.

गांव के कुछ लोगों के अनुसार सड़क के लिए धीरेन्द्र यादव ने पूर्व में अपनी जमीन दी थी। जब धीरेन्द्र को इस सड़क से फायदा पहुंचने वाले गांव के लोगों का ही वोट नहीं मिला तो उसने गुस्से में सड़क को खोद डाला। इस सड़क से चरवारा, जमुनापुर, नौडीहा, सोहाड़ी, सीतारामपुर गांव का सम्पर्क था। अब गांव के लोग सड़क काटे जाने को लेकर प्रशासन से लिखित शिकायत की तैयारी कर रहे हैं। तेतर पंचायत की नवनिर्वाचित मुखिया शिल्पी सिंह ने इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को दी है।