Parle-G नहीं खाओगे तो हो जाएगी अनहोनी..’, सुनते ही दुकानों में ख़त्म हुई बिस्कुट का स्टॉक

बिहार में अक्सर कोई न कोई अफवाह गिलते रहता है | आये दिन Parle-G बिस्किट को लेकर एक ऐसी भयानक अफवाह फैली है जिससे लगभग पुरे बिहार में इस बिस्किट की स्टॉक ख़त्म हो गयी | किराना की दुकानों पर पारले-जी बिस्किट खरीदनें वालों की भीड़ लग गई. बताया जाता है कि, जिले में पारले-जी बिस्किट को जितिया पर्व (Jitiya Festival) से जोड़कर एक अफवाह फैलाई गई | वहीं, अफवाह के बाद से बिहार के कई जिलों से पारले-जी बिस्किट दुकानों से गायब हो गए |

Parle-G records best sales in eight decades during coronavirus lockdown -  IBTimes India

दरअसल, लोगों ने बताया कि, सीतामढ़ी जिले में देखते ही देखते ये अफवाह फैल गई कि घर में जितने भी बेटे हैं, उन सभी को पारले-जी बिस्किट खाना है. अगर नहीं खाया तो उनके साथ किसी प्रकार की अनहोनी हो सकती है. इस अफवाह के कारण कुछ ही देर में लोग घरों से बाहर निकले और आसपास दुकानों पर भीड़ लगा दी | देखते ही देखते बिस्कुट की स्टॉक ख़त्म खासकर महिला इस अफवाह को सच मानती है |

यह भी पढ़ें  बिहार के एक दर्जन से अधिक रेल परियोजनाओं में मिले मात्र एक-एक हजार रुपये, काम पर होगा बड़ा असर
Learning UX from the design of a biscuit | by Yuvraj Shivhare | UX  Collective

जानकारी के मुताबिक के जिले के बैरगनिया, ढेंग, नानपुर, डुमरा, बाजपट्टी, मेजरगंज समेत कई प्रखंडों में यह अफवाह फैल गई. इस अफवाह के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में ये चर्चा का विषय बना हुआ है. हालांकि, ये अफवाह कब और कहां से फैली, यह अब तक पता नहीं चल सका है. इस अफवाह के कारण पारले-जी कंपनी को मुनाफा हुआ है. बाजार में पड़ा आधा स्टॉक एक ही दिन में खत्म हो गया | जब जिले के एक बड़े किरण दूकानदार से पूछा गया तो उसने बताया की रात से जितना भी लोग आ रहे है सब parle-g ही ले रहे है | लगभग जिला का अधिकांस दुकान की स्टॉक भी ख़त्म हो गयी है |

यह भी पढ़ें  बिहार के इस जिले में पांच करोड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ भव्य मंदिर, जल्द होगा उद्घाटन