देवघर से बिहार आना होगा आसान इन 10 रूटों पर जल्द चलेगी बसें, जानिये रूट प्लान

अब राजधानी पटना से राज्य के दूसरे शहरों में जाने के लिए यात्रियों को अब बसों की कमी नहीं होगी। पटना से दरभंगा, समस्तीपुर, सासाराम, जमुई, बांका, पाली, भभुआ, औरंगाबाद, भीट्ठामोड़, मानपुर समेत, झारखंड व उत्तर प्रदेश के शहरों के बीच परिचालन के लिए बसों की संख्या बढ़ाई जाएगी। बिहार राज्य पथ परिवहन निगम राज्य के भीतर 50 रूटों पर, झारखंड के लिए 10 तथा यूपी के लिए छह रूटों पर परिचालन में बसों की संख्या बढ़ाएगा। निगम की ओर से इन 66 रूटों पर 370 बसें चलाई जाएंगी। जिससे यात्रियों को आवाजाही में सुविधा होगी | मुस्किल की सामना नहीं करनी होगी |

यह भी पढ़ें  बिहार के इस एक्सप्रेस-वे पर दो महीने के अंदर शुरू होगी काम 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य

इन रूटों पर बसों के परिचालन से इच्छुक लोग परिवहन विभाग की वेबसाइट से जानकारी ले सकते हैं। निगम में आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 25 अक्टूबर है। निगम के मुताबिक बिहार से यूपी के लिए 82 बसें बढ़ेंगी, जबकि बिहार से झारखंड के बीच 34 बसें चलाई जाने की तैयारी है। वहीं, बिहार के अलग-अलग रूटों पर कुल 254 बसें बढ़ाई जाएंगी। बिहार व यूपी के छह रूटों पर बसों का परिचालन बढ़ने से इन प्रदेशों के विभिन्न शहरों से आवागमन आसान होगा।

इन रूटों पर चलेगी बस सेवा

बिहार के 50 अंतरराज्यीय मार्गों में से 26 मार्ग पटना से दूसरे शहरों के बीच के हैं। पटना के अलावा दरभंगा, भागलपुर, गया, बरबीघा, जमुई, किशनगंज, मंगेर, पूर्णिया, जयनगर, बेगूसराय, जहानाबाद, मुजफ्फरपुर केसरिया, नवादा, मधुबनी, सहरसा, जोगबनी, सीवान, मोतिहारी, सासाराम, डेहरी, भभुआ, रक्सौल, बांका, पाली, सिकंदरा, समस्तीपुर समेत अन्य शहरों के बीच बसों के परिचालन की योजना है।

यह भी पढ़ें  बिहारवासियों के लिए खुशखबरी! जल्द चालू हो जायेगा गांधी सेतु का पूर्वी लेन, पटना जाना होगा सरल