राजधानी पटना में बाईपास की जगह बनेगा 15 KM लंबा एलिवेटेड रोड, नई सड़कों के लिए भूमि अधिग्रहण का मिली मंजूरी

बिहार के राजधानी पटना में कच्ची दरगाह से अनिसाबाद के बीच बहुत जल्द एलिवेटेड सड़क का निर्माण किया जाएगा। बिहार की यह सबसे बड़ी एलिवेटेड सड़क होगी। चार लेन में बनने वाली यह सड़क 15 किमी की होगी। वहीँ बिहार के वर्तमान पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने सोमवार को सड़क परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की। इस बैठक के बाद यह जानकारी दी गई। इस परियोजना के केंद्र में यह है कि इस स्ट्रेच में ट्रैफिक का बड़ा बोझ है। सर्वे के अनुसार एक दिन में 12 हजार से 15 हजार वाहन इस रास्ते गुजरते हैैं।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय इस प्रोजेक्ट को गंभीरता है। सूबे के 9 मेगा प्रोजेक्ट के लिए भूमि अधिग्रहण का काम पूरा हो चुका है। इन परियोजनाओं के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट NHAI तैयार किया था। इसको लेकर यह जानकारी दी गई कि इन 9 परियोजनाओं के निर्माण का टेंडर प्रक्रिया वित्तीय वर्ष 2022-23 में ही पूरी कर ली जाएगी।

यह भी पढ़ें  भोजपुरी गायक पवन सिंह से मिलने पंहुचा बिहार के दिव्यांग फैन 3 दिन इंतजार के बाद मिले एक्टर फिर

हालांकि समीक्षा बैठक में यह जानकारी मिली कि दानापुर-बिहटा एलिवेटेड कारिडोर के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हो गई है। 3,477 करोड़ की लागत से 19.38 किमी लम्बाई में निर्माण होगा। इधर पटना के शेरपुर से सारण के दिघवारा तक गंगा नदी पर बनने वाले पुल के लिए भी भूमि अधिग्रहण हो गया है। इस पर 5,134 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।

पटना की दो परियोजनाओं के अलावा 7 अन्य परियोजनाओं के लिए भी भूमि अधिग्रहण कर लिया गया है। इनमें अदलवाड़ी-मानिकपुर 40 किमी में 846 करोड़ की लागत से, मानिकपुर-साहेबगंज 42.80 किमी में 918.06 करोड़ की लागत से, साहेबगंज-अरेराज 39.64 किमी , बहादुरगंज-किशनगंज 23.08 किमी में 470.31 करोड़ की लागत से, सिवान-मशरख 51.85 किमी में 1350.75 करोड़ की लागत से, चोरमा-बैरगनिया 37.03 किमी में 597.71 करोड़ की लागत से तथा सहरसा उमगांव 36.54 किमी में 605 करोड़ रुपये शामिल है। कई मेगा सड़क परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण करने की स्वीकृति दी गयी है। इनमें मुजफ्फरपुर-बरौनी 116.23 किमी, मोकामा-मुंगेर 96.00 किमी तथा बक्सर-हैदरिया 22.06 किमी सड़क शामिल हैं।

यह भी पढ़ें  बिहार के रेल रूट को मिला तोहफ़ा कलकत्ता, दिल्ली जाने के लिए डबल डेकर ट्रेन का कम होगा किराया