सहरसा सहित 15 स्टेशन पर स्थानीय उत्पाद के लगेंगे स्टॉल जानिये क्या है रेलवे की योजना?

काम की खबर : सहरसा समेत समस्तीपुर डिविजन के 15 स्टेशनों पर स्थानीय उत्पाद के काउंटर लगाने की योजना रेलवे के तरफ से बनाई जा रही है | जिसमे सहरसा स्टेशन पर जूट निर्मित उत्पाद लगाये जायेंगे | वहीँ सिमरी बख्तियारपुर, सुपौल और मधेपुरा स्टेशन पर कोसी क्षेत्र की पहचान वाले उत्पाद मखाना को प्रदर्शित कर बिक्री की जायेगी। समस्तीपुर मंडल के डीआरएम आलोक अग्रवाल ने कहा कि एक स्टेशन एक उत्पाद योजना के तहत देश भर के 1000 स्टेशनों पर स्थानीय उत्पाद के स्टॉल 15 दिन के लिए लगाए जाने हैं। समस्तीपुर मंडल के 15 स्टेशनों पर स्थानीय उत्पाद के स्टॉल लगाने का लक्ष्य मिला है।

यह भी पढ़ें  बिहार में बारिश से राहत : आज इन आठ जिलों में होगी बारिश, 48 घंटे के बाद फिर बढ़ेगा पारा

जाकारी के लिए आपको बता दू कि बिहार के लोकप्रिय स्टेशन दरभंगा पर भी मिथिला पेंटिंग और उससे संबंधित उत्पाद का स्टॉल लगाया गया है। जिसका रिस्पॉन्स बेहतर मिला है और यात्रियों के जरिए इस उत्पाद की विशेषता से दूर-दूर के लोग वाकिफ हो रहे हैं। दरभंगा स्टेशन पर स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देकर उसकी खूबियों से लोगों को अवगत कराने के लिए इस तरह की कवायद की जा रही है। उन्होंने कहा कि इसी सप्ताह से 15 दिन के लिए चिन्हित 14 स्टेशनों पर स्थानीय उत्पाद के स्टॉल लगाए जाएंगे। दरभंगा स्टेशन पर मिथिला पेंटिंग का स्टॉल लगाया जा चुका है।

यह भी पढ़ें  बिहार सड़क निर्माण कार्य में रच दिया इतिहास 96 घंटा के अन्दर बना डाला 38 km लम्बा रोड