काम की बात : टाटा मोटर्स ने अपने कर्मचारियों के वेतन में की बड़ी बढ़ोतरी, एमओपी, क्वालिटी और सेफ्टी राशि में भी इजाफा

दोस्तों टाटा मोटर्स में काम कर रहे कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि दरअसल टाटा कंपनी के कर्मचारी को प्रत्येक चार साल पर 14 हजार रूपये का बढ़ोतरी मिलेगा | आपको बता दे कि ये बढ़ोतरी एक ही बार में नहीं की जायेगी बल्कि सालों साल होगी मतलब चार साल में चार बार लोगों के वेतन में इजाफा होगा बता दे कि पहला साल में 9 हजार 1 सौ रूपये की बढ़ोतरी होगी वहीँ दूसरी साल में 2 हजार 1 सौ रूपये की बढ़ोतरी की जायेगी | जबकी तीसरा और लास्ट वर्ष चौथा में 1400-1400 की बढ़ोतरी की जायेगी | इस प्रकार चार साल में कुलमिलाकर 14 हजार की भारी बढ़ोतरी टाटा मोटर्स के कर्मचारी की की जायेगी |

इसके अलावा ई-1 से ई-9 ग्रेड कर्मचारियों के इंक्रीमेंट की दर में भी 65 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। वर्तमान में कर्मचारियों को 195 से 260 रुपये इंक्रीमेंट मिलता है। हालांकि परिवर्तनशील भत्ता (वेरिएबल एलाउंस) में 3000 रुपये बढ़ोतरी का लाभ कर्मचारियों को पहले वर्ष से ही मिलना शुरू हो जाएगा। टाटा मोटर्स में अब तक तीन वर्षों के लिए वेतन समझौता होता था जबकि इस वर्ष समझौते की अवधि को बढ़ाकर चार वर्ष किया गया है। इस पर यूनियन नेतृत्व का कहना है कि लखनऊ में चार वर्षों का समझौता हो चुका है जबकि पुणे में इसके लिए तैयारी की जा रही है।

यह भी पढ़ें  खुशखबरी : बिहार के बेरोजगार युवा को टाटा के 19 कम्पनियों में मिलेंगे रोजगार, जानिए योग्यता

समझौते के तहत कर्मचारियों के मेजरमेंट आफ परफार्मेंस (एमओपी) में भी बढ़ोतरी की गई है। पहले न्यूनतम 3400 व अधिकतम 12,950 रुपये की दर थी जिसे बढ़ाकर न्यूनतम 6100 व अधिकतम 15,500 रुपये किया गया है। क्वालिटी स्लैब में न्यूनतम 100 व अधिकतम 1300 रुपये को बढ़ाकर न्यूनतम 300 व अधिकतम 1550 रुपये किया गया है। जबकि सेफ्टी स्लैब में न्यूनतम 100 व अधिकतम 1300 रुपये में बढ़ोतरी कर न्यूनतम 300 व अधिकतम 1500 रुपये मिलेंगे।

  • कर्मचारियों को प्रति डेढ़ वर्ष में तीन पेंट-शर्ट के साथ एक-एक टी-शर्ट भी मिलेगा।
  • 15 वर्ष की सेवा पूरी करने के बाद कर्मचारियों को हाथ घड़ी मिलेगी। जबकि इससे अधिक सेवा कर चुके कर्मचारियों को सेवानिवृत्त के समय लाभ मिलेगा।
  • रविवार या छुट्टी के दिन ड्यूटी बुलाने पर बस सेवा के बदले में 250 रुपये पेट्रोल भत्ता मिलेंगा।
  • हेल्पर, आपरेटर या वर्कर के बजाए कर्मचारी अब टेक्नीशियन, सीनियर व जूनियर के पद से जाने जाएंगे।
  • कर्मचारी के निधन पर दाह संस्कार के लिए 2500 रुपये के बजाए 5000 रुपये मिलेंगे।
यह भी पढ़ें  बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद बिहार की 4 हाथ पैर वाली बच्ची की करेंगे मदद करवाएंगे इलाज

वहीँ हाल ही में इन नए कोर्स किया गया है शुरू :

फैशन टेक्नोलाजी, आटोमोबाइल्स टेक्नोलाजी, कार पेंटिंग, आटोबाडी रिपेयर, वेल्डिंग, प्लास्टिक डाई इंजीनियरिंग, सीएनसी मिलिंग, सीएनसी टर्निंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग डिजायन, रोबोट सिस्टम इंटीग्रेशन, एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग, डिजिटल कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रानिक्स, इलेक्ट्रिकल इंसटालेशन, रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग, मोबाइल रोबोटिक्स, मेकाट्रोनिक्स, इंडस्ट्रियल कंट्रोल, वाटर टेक्नोलाजी,

एवं आइटी साफ्टवेयर साल्यूशन फार बिजनेस, वेब टेक्नोलाजी, क्लाउड कंप्यूटिंग, साइबर सुरक्षा, आइटी नेटवर्क सिस्टम एडमिनिस्टे्रशन, मोबाइल एप्लिकेशंस डेवलपमेंट, ग्राफिक डिजाइन टेक्नोलाजी, थ्री डी डिजिटल गेम आर्ट, प्रिंट टेक्नोलाजी, इंडस्ट्रियल डिजाइन टेक्नोलाजी, पेंटिंग एंड डेकोरेटिंग, प्लबिंग एंड हीटिंग, विजुअल मर्चेंडाइजिंग, इनफारमेशन नेटवर्क केबलिंग।