बिहार के राजधानी पटना सहित इन जिलों में 50 से अधिक सड़क एवं 37 पूल का होगा निर्माण, देखे लिस्ट

दोस्तों बिहार एक ऐसा राज्य है जिसके पास न ही विशेष राज्य का दर्जा है नहीं इस राज्य का साक्षरता दर दुसरे राज्य की तुलना में अधिक है | और बिहार की आर्थिक स्थिति भी कुछ अच्छी नहीं है | और बिहार बीमारू राज्य में भी इसका नाम शामिल है बिहार सबसे गरीब राज्य भी है | लेकिन अब बिहार दिन प्रतिदिन हर क्षेत्र में अपना पैर पसार रहा है | और बिहार भी विकाश कर रहा है बता दे की इस साल बिहार के ऊपर सबसे अधिक पैसे खर्च किये जाना है |

जिससे बिहार में सड़क का निर्माण हो सके पूल बन सके | दरअसल साल 2022 में बिहार को प्रधानमंत्री ग्रामीण योजना के तहत बिहार के 14 से अधिक जिलों में 50 से अधिक सडक का निर्माण किया जाना है | और लगभग 40 पूल भी बनाया जाएगा | इसको लेकर पथ निर्माण विभाग ने इजाजत दे दी है | अब उम्मीद है कि अगले महीने से काम भी शुरू किये जायेंगे |

बिहार के इन सभी जिलों में सडक का होगा निर्माण :

बिहार के 38 जिला अररिया जिला एवं अरवल, औरंगाबाद,कटिहार,किशनगंज, कैमूर, खगड़िया ,गया गोपालगंज जमुई जहानाबाद दरभंगा नवादा नालंदापटना पश्चिमी चम्पारण पूर्णिया पूर्वी चम्पारण बक्सर बाँका बेगूसराय भागलपुर भोजपुर मधुबनी मधेपुरा मुंगेर मुजफ्फरपुर रोहतास लखीसराय वैशाली शिवहर शेखपुरा समस्तीपुर सहरसा सारन सीतामढ़ी सीवान, है |

जिसमे से औरंगाबाद ,बेगूसराय, भोजपुर, पूर्वी चंपारण, गया, जमुई, कैमूर, मधेपुरा, मुंगेर, नालंदा, पूर्णिया, शिवहर, सीतामढ़ी, वैशाली और पश्चिमी चंपारण शामिल है। और इन्ही जिलों में सड़क और पुल के निर्माण के लिए मंजूरी अभी दी गयी है |

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इन परियोजनाओं के लिए जल्दी ही टेंडर जारी किया जाएगा वही खबरों की माने तो आने वाले समय में 159 सड़कों का निर्माण किया जाएगा जिसमें 1390.3 किलोमीटर सड़कों का निर्माण होना है जिसमें 1140.99 करोड़ खर्च आने का अनुमान है। हालांकि अभी फिलहाल 66 सड़कों का निर्माण किया जायेगा।

इन सडक और पूल का निर्माण हो जाने से बिहार के इन लोगो को होगा फायदा :

पटना, छपरा, आरा, समस्तीपुर, बलिया, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, गया, औरंगाबाद, बेगूसराय, बख्तियारपुर,सिवान ,लखीसराय, पूर्वी चंपारण, गया, जमुई, कैमूर, मधेपुरा, मुंगेर, नालंदा, पूर्णिया, शिवहर सहित प्रदेश के तमाम लोगों को सुविधा होगी |