बिहार के सरकारी स्कूल में हेडमास्टर की डायरेक्ट बहाली 150 नंबर का होगा परीक्षा जाने डिटेल्स….

बिहार के पढ़े-लिखे लोगों के लिए अच्छी खबर है खास कर शिक्षक की नौकरी की चाह रखने वाले लोगों के लिए यह बहुत ही बढ़िया मौका है | बता दे कि राज्‍य सरकार उच्‍च माध्‍यमिक विद्यालयों में 6421 पदों पर हेडमास्‍टर यानी प्रधानाध्‍यापक (Headmaster Recruitment in Bihar) के पदों पर बहाली करने जा रही है।ये पद के लिए वेतन 35 हजार रूपये निर्धारित किया गया है | इसके अलावा राज्‍य सरकार की ओर से अनुमान्‍य भत्‍तों का भुगतान भी किया जाएगा। राज्य के सरकारी उच्च माध्यमिक विद्यालयों में प्रधानाध्यापकों की नियुक्ति के लिए बिहार लोक सेवा आयोग (Bihar Public service Commission) ने शुक्रवार को अधिसूचना जारी कर दिया है।

28 मार्च तक होगा आवेदन

बीपीएससी की ओर से छह हजार 421 पदों पर नियुक्ति के लिए आनलाइन आवेदन शनिवार से आरंभ होगा। इसके लिए लिंक और आवेदन प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी आयोग की वेबसाइट (www.bpsc.bih.nic.in) पर अपलोड कर दी गई है। अभ्यर्थी 28 मार्च तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन में त्रुटि की स्थिति में चार अप्रैल सुधार के लिए पोर्टल ओपन रहेगा।

यह भी पढ़ें  बिहार : बढ़ते बालू की कीमत से लोग है परेशान अवैध खनन रोकने के लिए घाटों पर लगेंगे हाईमास्ट कैमरा नहीं बचेंगे माफिया

प्रधान शिक्षक के सबसे अधिक 1980 खाली पद पटना जिले में हैं. जबकि प्रधानाध्यापक के सबसे अधिक पद 342 पूर्वी चंपारण रिक्त हैं. प्रधान शिक्षक के सबसे कम पद 216 शिवहर जिले में हैं, जबकि प्रधानाध्यापक के सबसे कम 33 पद अरवल जिले में हैं. न्यूनतम 31 और अधिकतम 47 वर्ष आयु के शिक्षक प्रधानाध्यापक के लिए आवेदन के योग्य होंगे. 2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षक के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है.

सबसे खास जानकारी यह कि प्राथमिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक की नियुक्ति के लिए पंचायत या नगर प्रारंभिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम 8 साल तक लगातार सेवा कर चुके शिक्षक आवेदन कर सकेंगे. उम्र सीमा तय नहीं हैं. पंचायती राज संस्था एवं नगर निकाय संस्था के तहत स्नातक शिक्षक, जिनकी सेवा संपुष्ट है, यानी जो दो साल से अधिक कार्य कर चुके हैं, वे आवेदन कर सकेंगे. 2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षक के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है.

यह भी पढ़ें  पटना की ग्रेजुएट चाय वाली के पास चाय पीने पंहुची भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह खाई बिस्किट

आयोग के अनुसार पंचायत व नगर निकाय के अधीन कार्यरत शिक्षक के लिए न्यूनतम एवं अधिकतम आयु सीमा अलग से निर्धारित नहीं की जाएगी। सीबीएसई, आइसीएसई, बीएसईबी से संबद्धता प्राप्त विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के लिए एक अगस्त, 2021 को न्यूनतम आयु 31 वर्ष एवं अधिकतम 47 वर्ष होनी चाहिए। आरक्षित श्रेणी में सरकार के प्रविधान के अनुसार छूट दी जाएगी।

सेवानिवृत्त होने के लिए 60 वर्ष निर्धारित है। कार्मिक एवं प्रशासनिक सुधार विभाग के निर्देश के आलोक में भूतपूर्व सैनिकों को उम्र सीमा में तीन वर्ष तथा प्रतिरक्षा सेवा में बताई गई सेवा अवधि के योग के समतुल्य रियायत दी जाएगी। इसमें वास्तविक उम्र आवेदन की तिथि को 53 वर्ष से अधिक नहीं होना चाहिए।

यह भी पढ़ें  बिहार के भागलपुर की बेटी को अमेजन ने दिया 1.10 करोड़ का बड़ा पैकेज, सब दे रहे बधाई

जानिये किस कोटि के लिए कितने पद

  • कोटि                   कुल पद                 महिला आरक्षण
  • सामान्य                2571                        903
  • ईडब्ल्यूएस             639                        189
  • अनुसूचित जाति        1027                        385
  • अनुसूचित जनजाति      66                            20
  • अत्यंत पिछड़ा वर्ग       1157                        426
  • पिछड़ा वर्ग               769                          256
  • पिछड़ा वर्ग की महिलाएं  192                         00