शादी के तीन महीने भी नहीं हुआ और पतन ने दी बच्चे का जन्म, पति पहुंचा सीधा कोर्ट

दरअसल ये मामला उत्तरप्रदेस के गाजियाबाद की है जिसमे शादी के सही से चार महीने भी नहीं हुआ और माँ बन गयी लड़की तो उसके पति ने शुरू शुरू में ही अपने पत्नी से पूछा था तो उसकी पत्नी ने गैस की वजह बताई और बतलाई की गैस की वजह से मेरा पेट फुल गया है | लेकिन जैसे जैसे दिन बितता गया पति का सक बढ़ता गया फिर एक दिन पति पति ने अपनी पत्नी को लेकर डाक्टर के पास लेकर गया | फिर वह परअल्ट्रासाउंड जाँच होने की बाद सारा राज खुल गया |

एक अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, 18 मार्च को लोहियानगर की रहने वाली एक लड़की की शादी मोहन नगर के एक युवक से हुई थी. शादी के कुछ दिन बाद ही लड़की का पेट बाहर निकलने लगा. पति ने पूछा तो पत्नी हर बार गैस की समस्या बताती रही. पति भी कुछ दिनों तक मामले को इग्नोर करता रहा |

महिला थाने में दी गई शिकायत के मुताबिक, पति ने कहा कि एक महीने बाद ही पत्नी ने बताया कि वह प्रेग्नेंट है, इससे वह खुश हो गया, कोरोना की दूसरी लहर की वजह से डॉक्टर से वीडियो कॉल पर समस्या पूछकर दवाइयां देने लगा. इसी बीच 25 जून को चेकअप के लिए डॉक्टर ने क्लिनिक पर बुलाया तो भेद खुल गया |

फिर उसके बाद पति थाना जाकर प्राथमिकी दर्ज कराई और उसका ख़म है की उसके साथ धोखा हुआ है | और वह अपनी पत्नी और ससुराल वालों के ऊपर पप्राथमिकी दर्ज कराई |